Al Baari Meaning in Hindi | अल बारी नाम के फायदे

अस्सलाम अलैकुम दोस्तों, इस वेबसाइट पर 99 names of allah का सीरीज स्टार्ट किया गया है जिसमे अल्लाह के 99 नाम के बारे में बताया जा रहा है जिसमे आज आपको Al Baari के बारे में सिखने को मिलने वाला है.

आज आपको जानने को मिलेगा Al Baari का मतलब क्या है, इसे कब और कितनी बार पढना चाहिए, और इसे पढने से क्या फायदा होने वाला है.

Al Baari Meaning in Hindi

الْبَارِئُ
AL-BAARI
(जान डालने वाला)

अल्लाह वो है के जो बगैर किसी मिसाल के जिस मखलूक को जैसा चाहा बनाने वाले और उसके वजूद का इजहार करने वाला है।

अल बारी को कब पढ़े?

Al Baari पढने के लिए कोई भी समय मुक़र्रर नहीं है जब आपके पास समय हो पढ़ सकते है लेकिन बेहतर ये होता है की किसी भी नमाज़ के बाद पढ़े.

क्युकी नमाज़ के बाद पढने का मतलब यही है की आप पाक व साफ़ वजू के साथ होते है और इस हालत में पढ़ते है तो दुआ कुबूल होने का ज्यादा चांस ज्यादा होता है.

अगर आप चाहे तो नमाज़ के बाद अल मालिक को 100 बार पढ़ सकते है.

जो शख्स इस नाम को हफ्ताभर 100 मर्तबा पढ़े अल्लाह उसे कब्र में तनहा न छोड़ेगा बल्कि रियाज़े.क़ुद्स में जगह देगा डॉक्टर को  इस नाम पाक का विरद हमेशा करना चाहिए इससे उनका इलाज़ सही रहता है और मरीज़ो को शिफा  मिलती है

अल बारी के फायदे और वजीफा क्या है?

  • अगर इलाज करने वाला इस नाम को पाबंदी से हमेशा पढ़े तो उसके हाथ में शिफ़ा होगी
  • जो कोई हफ्ते के दिन इसको 100 बार पड़ेगा अल्लाह तआला उसको जन्नतुल फिरदौस की तरफ ले जाएंगे
  • जो कोई इस नाम को 244 बार पढ़े उसकी जो भी ज़रुरत होगी वह पूरी होगी
  • अगर बांझ औरत सात रोज़े रखे और पानी से इफ़्तार करने के बाद 21 मर्तबा अल-बारिउ और अल-मुसव्विरू पढ़े तो इंशाल्लाह बेटा नसीब होगा
  • जो 7 दिन तक रोजाना इसको 100 बार पढ़ेगा अल्लाह तआला उसे बीमारियों से शिफ़ा और आफ़तों से सलामती अता फरमाएगे


5/5 - (2 votes)

Leave a Comment