Al Hakeem Meaning in Hindi | अल हकीम नाम के फायदे

अस्सलाम अलैकुम दोस्तों, इस वेबसाइट पर 99 names of allah का सीरीज स्टार्ट किया गया है जिसमे अल्लाह के 99 नाम के बारे में बताया जा रहा है जिसमे आज आपको Al Hakeem के बारे में सिखने को मिलने वाला है.

आज आपको जानने को मिलेगा Al Hakeem का मतलब क्या है, इसे कब और कितनी बार पढना चाहिए, और इसे पढने से क्या फायदा होने वाला है.

Al Hakeem Meaning in Hindi

الْحَكِيمُ
Al-Hakeem
(हिकमत वाला)

अल्लाह वो है के जो तमाम मखलोक़ात को इनकी लायक़ जगह पर रखने वाला है, और अल्लाह की तड़बीर में किसी क़िस्म की ख़लल और कमज़ोरी नहीं होती।

अल हकीम को कब पढ़े?

Al Hakeem पढने के लिए कोई भी समय मुक़र्रर नहीं है जब आपके पास समय हो पढ़ सकते है लेकिन बेहतर ये होता है की किसी भी नमाज़ के बाद पढ़े.

क्युकी नमाज़ के बाद पढने का मतलब यही है की आप पाक व साफ़ वजू के साथ होते है और इस हालत में पढ़ते है तो दुआ कुबूल होने का ज्यादा चांस ज्यादा होता है.

अगर आप चाहे तो नमाज़ के बाद अल मालिक को 100 बार पढ़ सकते है.

अल हकीम के फायदे और वजीफा क्या है?

benefits of reciting Al Hakeem

  • जिसके हर काम में कोई न कोई रुकावट आ जाती हो तो वो इस नाम की तस्बीह पाबंदी से करे इंशाअल्लाह काम में रुकावट नहीं रहेगी
  • जो शख्स “या हकीमु” की तस्बीह खूब पढ़ा करे तो अल्लाह त आला उस पर इल्म व हिकमत के दरवाज़े खोल देंगे
  • जिस किसी को भी कोई सख्त हाज़त पेश आये इस नाम पाक को हमेशा पढ़े! पूरी होगी इंशा अल्लाह
  • जो खूब या हकीमु पढ़ा करे तो अल्लाह उस पर इल्म व हिकमत के दरवाज़े खोल देंगे
  • जो ज़ोहर के बाद ये नाम 90 बार पढ़ा करे वो तमाम मख्लूक़ में मुमताज़ हो जायेगा


Rate this post

Leave a Comment