Al Malik Meaning in Hindi |अल मालिक के फायदे

5/5 - (1 vote)

अस्सलाम अलैकुम दोस्तों, इस वेबसाइट पर 99 names of allah का सीरीज स्टार्ट किया गया है जिसमे अल्लाह के 99 नाम के बारे में बताया जा रहा है जिसमे आज आपको Al Malik के बारे में सिखने को मिलने वाला है.

आज आपको जानने को मिलेगा Al Malik का मतलब क्या है, इसे कब और कितनी बार पढना चाहिए, और इसे पढने से क्या फायदा होने वाला है.

Al Malik Meaning in Hindi

الْمَلِكُ
AL-MALIK
(सारे जहाँ का बादशाह)

अल्लाह ता’अला हक़ीक़त बादशाह है और उसी को ये हक़ है के वो जिस काम को चाहे अपने बन्दों को हुक्म करे और जिस काम को चाहे बन्दों को मना करे, वो अपने हुक्म से अपनी मख़लूक़ात में तसर्रुफ़ करता है।

अल मालिक को कब पढ़े?

Al Malik पढने के लिए कोई भी समय मुक़र्रर नहीं है जब आपके पास समय हो पढ़ सकते है लेकिन बेहतर ये होता है की किसी भी नमाज़ के बाद पढ़े.

क्युकी नमाज़ के बाद पढने का मतलब यही है की आप पाक व साफ़ वजू के साथ होते है और इस हालत में पढ़ते है तो दुआ कुबूल होने का ज्यादा चांस ज्यादा होता है.

अगर आप चाहे तो नमाज़ के बाद अल मालिक को 100 बार पढ़ सकते है.

अल मालिक के फायदे क्या है?

  • जो सूरज निकलते वक़्त अल मालिक को 3000 बार पढ़ेगा तो वो जो मुराद मांगेगा हासिल होगी
  • अगर हुक्मरान लोग इसे पढने का रूटीन बनायें तो बड़े बड़े सरकश लोग उसके फरमान बरदार हो जायेंगे
  • जो रोज़ाना सुबह की नमाज़ के बाद या मलिकु ख़ूब पढ़ेगा तो अल्लाह त आला उसे गनी फ़रमा देंगे
  • दिल के इत्मीनान सुकून के लिए रोजाना 90 मर्तबा पढ़ना बहुत ही फायदेमंद है ! अगर कोई नेक नियमित से इस नाम पाक का विर्द करेगा ! तो अल्लाह पाक का दीदार नसीब होगा !

क्या “Ya rabbana” अल्लाह के नाम है?

बिलकुल नहीं Ya Rabbana का मतलब होता है ये मेरे रब और ये 99 names of allah list में नहीं है.



Sharing Is Caring:

Leave a Comment