Al Matin Meaning in Hindi | अल मतीन नाम के फायदे

अस्सलाम अलैकुम दोस्तों, इस वेबसाइट पर 99 names of allah का सीरीज स्टार्ट किया गया है जिसमे अल्लाह के 99 नाम के बारे में बताया जा रहा है जिसमे आज आपको Al Matin के बारे में सिखने को मिलने वाला है.

आज आपको जानने को मिलेगा Al Matin का मतलब क्या है, इसे कब और कितनी बार पढना चाहिए, और इसे पढने से क्या फायदा होने वाला है.

Al Matin Meaning in Hindi

المتي
AL-MATIN
(कुव्वत वाला)

अल्लाह वो ज़ात ए बा-बरकत है के जो अपनी क़ुदरत वा क़ुव्वत में बे-मिसाल और ज़बरदस्त है, अल्लाह (ﷻ) को अपनी शान के लायक किसी भी काम में ना कोई दुश्मनी होती है, ना तकलीफ होती है।

अल मतीन को कब पढ़े?

Al Matin पढने के लिए कोई भी समय मुक़र्रर नहीं है जब आपके पास समय हो पढ़ सकते है लेकिन बेहतर ये होता है की किसी भी नमाज़ के बाद पढ़े.

क्युकी नमाज़ के बाद पढने का मतलब यही है की आप पाक व साफ़ वजू के साथ होते है और इस हालत में पढ़ते है तो दुआ कुबूल होने का ज्यादा चांस ज्यादा होता है.

अगर आप चाहे तो नमाज़ के बाद अल मालिक को 100 बार पढ़ सकते है.

अल मतीन के फायदे और वजीफा क्या है?

benefits of reciting Al Matin

  1. अगर कोई बुरी आदत वाला लड़का या लड़की अपनी आदतों में सुधार लाना चाहता हो तो उसे चाहिए कि दस बार अल क़विय्युल मतीन पढ़ा करे इंशाअल्लाह बहुत जल्द सुधार आ जायेगा
  2. जिस बच्चे का दूध छूट गया हो ! मतलब नज़र लगने के कारण बहुत से बच्चे दूध पीना छोड़ देते है ! या बच्चे का दूध टिक नहीं पाता हो ! उस बच्चे को कागज पर या मतिनु लिखकर दूध पीला दिया जाए ! इंशा अल्लाह बहुत आराम होगा !
  3. और किसी माँ का दूध काम आ रहा हो तो माँ को भी इस नाम पाक को लिखकर वो कागज दूध में मिलकर पीला दे ! इंशा अल्लाह दूध ज्यादा होगा !
  4. जिस औरत का दूध कम हो या बिलकुल न हो तो उसको ये नाम कागज़ पर लिख कर धो कर पिलायें इंशाअल्लाह बहुत फ़ायदा होगा
  5. जिस बच्चे का दूध छुड़ाया गया हो और वो सब्र न करता हो उसे भी ये नाम 10 बार लिख कर पिलाया जाये तो इंशाअल्लाह सब्र आ जायेगा
  6. अगर किसी फासिक़ या फ़ाजिर (ग़लत आदतों वाला लड़का या लड़की) पर 10 बार अल क़विय्युल मतीन पढ़ेगा तो उसकी आदतों में सुधार आ जायेगा


5/5 - (1 vote)

Leave a Comment