Al Wahhab Meaning in Hindi | अल वहहाब नाम के फायदे

अस्सलाम अलैकुम दोस्तों, इस वेबसाइट पर 99 names of allah का सीरीज स्टार्ट किया गया है जिसमे अल्लाह के 99 नाम के बारे में बताया जा रहा है जिसमे आज आपको Al Wahhab के बारे में सिखने को मिलने वाला है.

आज आपको जानने को मिलेगा Al Wahhab का मतलब क्या है, इसे कब और कितनी बार पढना चाहिए, और इसे पढने से क्या फायदा होने वाला है.

Al Wahhab Meaning in Hindi

الْوَهَّابُ
AL-WAHHAB
(बहुत अता करने वाला)

वह जो बिना किसी प्रतिफल के बहुत कुछ देने में उदार है। वह सब कुछ है जो हलाल या हराम को फायदा पहुंचाता है।

अल वहहाब को कब पढ़े?

Al Wahhab पढने के लिए कोई भी समय मुक़र्रर नहीं है जब आपके पास समय हो पढ़ सकते है लेकिन बेहतर ये होता है की किसी भी नमाज़ के बाद पढ़े.

क्युकी नमाज़ के बाद पढने का मतलब यही है की आप पाक व साफ़ वजू के साथ होते है और इस हालत में पढ़ते है तो दुआ कुबूल होने का ज्यादा चांस ज्यादा होता है.

अगर आप चाहे तो नमाज़ के बाद अल मालिक को 100 बार पढ़ सकते है.

इस नाम को पढ़ने वाला फ़क़ीर से अमीर हो जाए अगर कोई जरुरत पेश आये तो आधी रात को उठकर आसमान की तरफ दुआ के अंदाज़ में हाथ 100 मर्तबा इस मुबारक़ नाम को पढ़े इंशा अल्लाह जरुरत पूरी हो

अल वहहाब के फायदे और वजीफा क्या है?

benefits of reciting Al Wahhab

  • अगर आप हमेशा के लिए अमीर बननाचाहिए तो या वहहाब रोज़ दो टाइम 1000 बार पढ़े. बेहतर है की फज़र के नमाज़ के बाद और रात को सोने से पहले पढ़े. ऐसा रोजाना तब तक करते रहें जब तक आपकी मनोकामना पूरी न हो जाए।
  • अगर आपकी कोई समस्या या इच्छा या हज्जत है जिसे आप 7 दिनों में पूरा करना चाहते हैं। आप यह वज़ीफ़ा या वहाबू कर सकते हैं।
  • जो फ़क्र व फाक़ा में हो वो इस नाम को खूब पढ़ा करे, या लिख कर अपने पास रखे या चाश्त की नमाज़ के आख़िरी सजदे में 40 बार इस नाम पढ़े अल्लाह तआला उसे फाक़ा से हैरत अंगेज़ तरीक़े पर नजात देंगे.
  • जो इशा की नमाज़ के बाद 1150 बार पढ़े वो क़र्ज़दार नहीं रहेगा
Benefits Reciting Al Wahhab Meanings and Fazail Barkat


5/5 - (1 vote)

Leave a Comment