Namaz Quran Blog

Teesra Kalma in Hindi With Meaning | तीसरा कलमा तमजीद

अस्सलाम अलैकुम दोस्तों, आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे तीसरा कलमा (Teesra Kalma in hindi) तमजिद क्या है और कैसे याद करते है और तीसरा कलमा क्यों पढ़ा जाता है. आशा करते हैं, आपको आज की इस पोस्ट से बहुत कुछ सींखने को मिलेगा, तो चलिए शूरू करते हैं

तीसरा कलमा तमजीद (Teesra Kalma Tamjeed)

سُبْحَان اللهِ وَالْحَمْدُلِلّهِ وَلا إِلهَ إِلّااللّهُ وَاللّهُ أكْبَرُ وَلا حَوْلَ وَلاَ قُوَّةَ إِلَّا بِاللّهِ الْعَلِيِّ الْعَظِيْم

“सुब्हानल्लाही वल हम्दु लिल्लाहि वला इलाहा इलल्लाहु वल्लाहु अकबर वला हौल वला कुव्वता इल्ला बिल्लाहिल अलिय्यील अज़ीम”

Subhan allahi walhamdu lillahi wala ialahah illallahu akbar wala houla wala kuwwata illa billahil aliyyil azeem

तीसरा कलमा तमजीद तर्जुमा (Teesra Kalma Tamjeed Hindi Translation)

अल्लाह की ज़ात हर ऐब से पाक है और तमाम तारीफे अल्लाह ही के लिए है। अल्लाह के सिवा कोई माबूद नहीं और अल्लाह सबसे बड़ा है और किसी में ना तो ताकत है न बल, ताकत और बल तो अल्लाह ही में है, जो बहुत मेहरबान निहायत रेहम वाला है|

Exalted is Allah, and praise be to Allah, and there is no deity except Allah, and Allah is the Greatest. And there is no might nor power except in Allah, the Most High, the Most Great

तीसरा कलमा क्या है? (Teesra Kalma kya hai)

जिस वाक्य का कोई महत्वपूर्ण अर्थ निकलता हो, उसे कलमा कहा जाता है, और इस्लाम मे कुल मिलाकर कलमों की संख्या 5 है,

  1. कलमा ए तय्यब
  2. कलमा ए शहादत
  3. कलमा ए तमजिद (तीसरा कलमा)
  4. कलमा ए तौहीद
  5. कलमा ए इस्तिगफ़ार

जिनमे से तीसरा कलमा भी एक है। तीसरे कलमे को कलमा ए तमजिद के रूप में भी जाना जाता है, तीसरे कलमे में खुदा की इबादत को दर्शाया गया है। तीसरे कलमे को पढ़ने के भी कई सारे फायदे हैं, जो खुदा इस कलमे को पढ़ने वाले के ऊपर अदा फरमाता है।

तीसरा कलमा की फजीलत

इस्लाम मे बहुत से कलमे है, और उन्ही में से एक है, तीसरा कलमा। तीसरे कलमे में खुदा की इबादत कही गयी है, और जो कोई सुबह की नमाज़ के बाद इस कलमे को पढ़ता है, उसको बहुत सारे फायदे होते हैं जो कि नीचे दर्शाए गए हैं-

  1. तीसरे कलमे (Tisra Kalma in Hindi) को सुबह की नमाज़ के बाद पढ़ना अच्छा माना जाता है, और माना जाता है, जो कोई भी तीसरे कलमे को पढ़ता है, वह खुदा का बहुत करीबी होता है।
  2. इस कलमे को पढ़ने से खुदा हमारी हिफाजत करते हैं, और बुरे लोगों और बुरी चीजों से हमे बचते हैं, इसलिए रोजाना इस कलमे का पाठ करना चाहिए।
  3. इस कलमे को पढ़ने से खुदा हमारी सारी परेशानियों से एक एक कर लड़ने में हमारी मदद करता है, और हमे आत्मविश्वास प्रदान करता है।
  4. तीसरे कलमे को सुबह की नमाज़ के बाद पढ़ने से दिन भर शरीर मे एक ताज़गी सी बनी रहती है, इसलिए हमें यह कलमा पढ़ना चाहिए।
  5. तइसरे कलमे (Teesra Kalma Hindi Mein) को पढ़ने से कारोबार या पढ़ाई में तरक्की आती है, और कारोबार आगे बढ़ता है, इसलिए लोग तीसरे कलमे को पढ़ने की हिदायत देते हैं।
  6. तीसरा कलमा पढ़ने से स्वास्थ्य ठीक बना रहता है, और यदि कोई बीमारी हो, तो वह भी धीरे धीरे ठीक होने लग जाती है। इसलिए हमें तीसरा कलमा सुबह पढ़ना चाहिए।
  7. इस कलमे को पढ़ने से दिन खुशनुमा और ताजगी भरा बीतता है, और दिन भर में आलस भी नहीं रहता।
  8. इस कलमे (Teesra Kalma in Hindi) में खुदा की इबादत की बात कही गयी है, इसलिए इस कलमे को पढ़ने वाले को खुदा अपने बहुत करीब रखते हैं, और उसे किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होने देते।

कुछ लोग इस कलमे को पढ़ने से होने वाले फायदों को नही जानते, जिससे वे इस कलमे को पढ़ते भी नहीं हैं। हमने इसे पढ़ने के कुछ फायदे ऊपर बताए, और तीसरे कलमे (3 Kalma Hindi Me) को पढ़ने के और भी कई सारे फायदे हैं, जो ऊपरवाला उसे देता है,

जो सुबह सुबह इस कलमे को कई बार पढ़े। तो अगर आप भी आज तक तीसरे कलमे को नहीं पढ़ते थे, तो आज ही से पढ़ना शुरू करिए तीसरा कलमा, और अपने जीवन मे होने वाले बदलावों को देखिए।

तीसरा कलमा कैसे पढ़ें?

सुबह की नमाज़ पढ़ने के लिए अच्छी तरह से वजू कर लें, उसके बाद पूरी शिद्दत से नमाज़ को पढ़ें, और जब नमाज़ खत्म हो जाए, तब तीसरा कलमा को पढ़ें। जिससे आपको बहुत सारे फायदे होंगे।

तीसरा कलमा क्यों पढ़ा जाता है

तीसरे कलमा जिसे कलमा ए तमजिद के नाम से भी जाना जाता है, इस कलमे को खुदा की इबादत और खुदा की तारीफ करने के लिए पढा जाता है, कई लोगों का मानना है, जो भी सुबह की नमाज़ के बाद यह तमजिद का कलमा पड़ता है, वह खुदा का बहुत करीबी होता है, और खुदा उसे मुश्किलों से बाहर निकलने में मदद करता है। इसलिए रोजाना सुबह की नमाज़ के बाद तीसरा कलमा पढ़ना चाहिए।

आज हमने तीसरा कलमा हिंदी में (Teesra Kalma in Hindi). और साथ मे ही जाना तीसरे कलमें का अर्थ (Meaning of Teesra Kalma ki fazilat in Hindi) और उसे रोजाना पढ़ने के फायदे।

आशा करते हैं, आपको आज की हमारी यह पोस्ट पसन्द आई होगी, और इससे कुछ नया सींखने को मिला होगा।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *