Bakra Eid Kab Hai? बकरा ईद कितनी तारीख की है? ताज़ा अपडेट 2024

क्या आप 2024 Bakra Eid Kab Hai? यह जानने के लिए आए है? इस बार बकरीद की तारीख को लेकर लोग बड़े कन्फ्यूज है। कोई 16 जून तो कोई 17 जून को बकरीद का त्योहार बता रहा है। आइए जानते हैं कि भारत में यह त्योहार किस दिन मनाया जाएगा।

बकरीद को ईद उल अजहा कहा जाता है। यह इस्लाम धर्म का दूसरा सबसे बड़ा त्योहार है। जो ईद के लगभग 70 दिन बाद होता है। Eid-ul-Adha तिन दिन मनाया जाता है।

जिसमे भारत मे सरकारी छुट्टी होती है, लेकिन मुस्लिम समुदाये के लोग अपने त्योहार को बड़े ही खुशी से मनाते है, एक दूसरे से गले मिलकर अथवा मिठाईया बाट कर।

ऐसा ही एक त्योहार बकरीद का भी है, ये त्योहार साल मे एक बार आने वाला है, बकरा ईद इस्लामिक कलेंडर के अनुसार साल के आखिरी महीने मे आता है, जिसको जुल हिज्जा भी कहा जाता है।

तो आइए जानते है। इस त्योहार के बारे मे इस बार 2024 मे बकरा ईद कब मनाई जाएगी, उसके लिए आप जानकारी को पूरा जरूर पढ़े।

बकरा ईद क्या है?

बकरा ईद या ईद-उल-अज़हा, इस्लाम धर्म का एक प्रमुख त्यौहार है जो हिजरी इस्लामिक कैलेंडर के 12वें महीने ज़ुलहिज्जा की 10वीं तारीख को मनाया जाता है। इसे ईद-उल-ज़ुहा भी कहा जाता है जिसका अर्थ होता है “क़ुर्बानी की ईद“।

इस्लाम में किसी भी त्यौहार को मनाने के पीछे कोई ना कोई वजह होती है। उसी तरह बकरा ईद मनाने के पीछे हजरत इब्राहीम अलैहे सलाम से जुड़ी है।

ईद-उल-अजहा का जश्न इस बात की याद में मनाया जाता है कि कैसे पैगंबर इब्राहीम अलैहे सलाम ने अल्लाह के मुताबिक अपनी Dedication, Emotion और अपने बेटे इस्माइल अलैहे सलाम को कुर्बानी करने की इच्छा दिखाई थी।

इसी क़ुर्बानी पर इस त्यौहार का नाम “बकरा ईद” या “बकरीद” पड़ा। इस दिन मुसलमान नए कपड़े पहनते हैं, रिश्तेदारों से मिलते हैं, मीठाइयाँ खाते हैं और एक-दूसरे को बधाई देते हैं।

इसी तरह मुस्लिम लोग ईद कब है? इसकी भी जानकारी Youtube और गूगल पर बार बार सर्च करते रहते है। जब तक उनको सही जानकारी ना मिल जाए। इसीलिए मैंने इस ब्लॉग की शुरुआत किया जहाँ पर सही जानकारी दिया जाता है।

Bakra Eid Kab Hai 2024

Bakra Eid Kab Hai 2024
Bakra Eid Kab Hai 2024

बकरीद का त्यौहार कब मनाया जाता है? इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक 12वें महीने जुल हिज्जा की 10 तारीख को बक़रीद मनाई जाती है। जो अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार 16 जून या 17 जून को मनाया जायेगा।

आप तो जानते ही हैं कि, सभी इस्लामी त्यौहार हिजरी कैलेंडर के अनुसार तय होते हैं। हर साल इस्लामी त्योहारों का तारीख बदलता है। अगर आप बेहतर जानकारी लेना चाहते है, तो निचे टेबल के माध्यम से बताया गया है।

2024 का बकरा ईद 16 या 17 जून को होगा

दोस्तों आप जानते ही होंगे ज़िल क़ादा जो की साल का 11 वा महिना होता है, अगर वो 29 का हुआ तो बकरा ईद 16 जून को होगा, अन्यथा ज़िल कादा महिना 30 दिन का हुआ तो बकरा ईद 17 जून को आप मना सकते है।

ज़िल कादा महीना 29 दिनों का होने पर 16 जून को बकरा ईद होगा

इस्लामिक तारीखअंग्रेजी तारीख
1 जुल हिज्जा07 जून
2 जुल हिज्जा08 जून
3 जुल हिज्जा09 जून
4 जुल हिज्जा10 जून
5 जुल हिज्जा11 जून
6 जुल हिज्जा12 जून
7 जुल हिज्जा13 जून
8 जुल हिज्जा14 जून
9 जुल हिज्जा15 जून
10 जुल हिज्जा16 जून (बकरीद)

जु अल कादा महीना 30 दिनों का होने पर 17 जून को बकरा ईद होगा

इस्लामिक तारीखअंग्रेजी तारीख
1 जुल हिज्जा08 जून
2 जुल हिज्जा09 जून
3 जुल हिज्जा10 जून
4 जुल हिज्जा11 जून
5 जुल हिज्जा12 जून
6 जुल हिज्जा13 जून
7 जुल हिज्जा14 जून
8 जुल हिज्जा15 जून
9 जुल हिज्जा16 जून
10 जुल हिज्जा17 जून (बकरीद)

बकरा ईद का सही नाम क्या है?

दोस्तों बकरा ईद का सही नाम मुस्लिम भाइयों को मालूम होता है, लेकिन कुछ लोग इसको बकरीद बुलाते है, तो कुछ लोग बकरा ईद भी बुलाते है, लेकिन थोड़े पढ़े लिखे लोग इसको ईद-उल-अदहा भी बुलाते है।

लेकिन हमारे गैर मुस्लिम भी लोग इस त्योहार के नाम को लेकर काफी ज्यादा कन्फ़्युशन मे रह जाते है, और अपने दोस्तों से इस त्योहार के सही नाम जानने की जानकारी को लेते है।

मीठी ईद जिसको बकरीद से 70 दिन पहले मनाया जाता है, वो रमजान के बाद आती है, फिर उसके बाद बकरा ईद आती है, जिसको लोग अलग अलग नाम से पुकारते है।

लेकिन इसको अगर आप बकरीद या बकरा ईद भी नाम लेकर पुकारते है, तो लोग फिर भी समझ जाते है, परंतु इस त्योहार का आधिकारिक नाम ईद-उल-अज़हा ही है।

पिछले सालों के रिकॉर्ड के मुताबिक, 2024 में बक़रीद कब है? 

इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक 12वें महीने जुल हिज्जा महीना की 10 तारीख को बक़रीद मनाई जाती है। जो ईद-उल-फितर के लगभग 70 दिनों के बाद होता है। 

ईद उल फितर का चांद को शाम में देखकर अगले दिन ईद-उल-फितर मनाते हैं। बक़रीद में चांद 10 दिन पहले देखा जाता है। क्योंकि इस्लामिक महीने में यह दसवीं तारीख को बकरीद होता है। चांद 1 तारीख को ही नजर आ जाता है। 

  • Eid al-Adha in 2014 – 4 अक्टूबर
  • Eid al-Adha in 2015 – 23 सितंबर
  • Eid al-Adha in 2016  – 13 सितंबर
  • Eid al-Adha in 2017 – 02 सितंबर
  • Eid al-Adha in 2018 – 22 अगस्त
  • Eid al-Adha in 2019 – 12 अगस्त 
  • Eid al-Adha in 2020 – 03 अगस्त। 
  • Eid al-Adha in 2021 – 20 जुलाई
  • Eid al-Adha in 2022 – 10  जुलाई
  • Eid al-Adha in 2023 – 29 जून 
  • Eid al-Adha in 2024 – 16 या 17 जून 

अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार देखें तो साफ पता चलता है कि हर साल 10 से 11 दिन पहले ईद-उल-जुहा त्यौहार का तिथि पीछे खिसकता है। 

बकरा ईद कितनी तारीख की है 2024

दोस्तों बकरा ईद जो इस्लामिक कलेंडर के हिसाब से मनाते है, लेकिन ये त्योहार चाँद पर निर्भर रहता है, इस ईद को मनाने के लिए 10 दिन पहले चाँद का दीदार करना होता है, जिसके बाद आप लोग ईद मना सकते है।

  • अब ये तो आप जान ही गए है की चाँद को दिखने के 10 बाद ईद को मनाया जाता है, लेकिन बात आती है अब इसकी सही तारीख क्या होती है? बकरा ईद को कौन से दिन मनाया जाएगा।
  • इस्लामी कैलेंडर का 12वां महीना जु अल हज्जा है, इस महीने की 10 तारीख को ईद उल अजहा का त्यौहार मनाया जाता है, इसी महीने के 8, 9 और 10 तारीख को हज अदा की जाती है।
  • लेकिन बकरा ईद को जु अल हज्जा के महीने के अनुसार मनाया जाएगा अगर महिना 29 दिन का होता है, तो बकरा ईद को 16 जून को मनाया जाएगा, और अगर महिना 30 का होता है तो फिर आप ईद को 17 जून को मना सकते है।

बकरा ईद मनाने की वजह क्या है?

दोस्तों बकरा ईद मनाने की वजह इस्लाम मे बहुत ही बड़ी वजह मानी जाती है, और इसका वाक्य भी है, और बकरा ईद की कुर्बानी की हजरत इब्राहीम अलैहे सलाम को अल्लाह से ख्वाब मे जियारत होती है, और अल्लाह से वो उनकी प्यारी और नायाब चीज की कुर्बानी को मांगते है।

लेकिन वो जानवर की कुर्बानी को दे देते है, फिर एक दिन और ख्वाब मे जियारत होती है, तो वो ज्यादा जानवर की कुर्बानी को दे देते है, फिर एक दिन अल्लाह उनसे हुक्म करते है, उनके बेटे की कुर्बानी के लिए, और इब्राहीम अल्लाह के लिए अपने बेटे को कुर्बान करने के लिए राजी हो जाते है।

जिस दिन उन्होंने ऐसा किया था तो वह तारीख इस्लामी कैलेंडर के अनुसार जुल हिज्जा महीने की 10 तारीख थी, इसी दिन की वजह से ईद उल अजहा का त्योहार मनाया जाता है।

सवाल जवाब

बकरा ईद का मतलब क्या है?

हज़रत इब्राहीम साहब अपने बेटे हज़रत इस्माइल साहब को अल्लाह के हुक्म पर अल्लाह की राह मे कुर्बान करने जा रहे थे, तब अल्लाह ने उनके बेटे का बख्श दिया।

बकरीद का दूसरा नाम क्या है

बकरीद को काफी नामों से पुकारा जाता है, बकरीद, बकरा ईद, बड़ी ईद, ईद उल अदहा, या ईद उल अजहा के नाम से भी पुकारा जाता है।

ईद और बकरीद में क्या अंतर है?

दोस्तों ईद जिसको मीठी ईद भी कहा जाता है, जो रमजान के महिना खतम होने ख़ुशी पर मनाई जाती है, उसके 70 दिन बाद ही बकरा ईद मनाई जाती है, जीपर लोग हलाल जानवर की कुर्बानी करते है।

क्या कुर्बानी वाजिब है या फर्ज?

दोस्तों कुर्बानी को वाजिब बताया गया है, और उसपर वाजिब बताया है, जो लोग अच्छा कमाते है।

आज का आखिरी बात

दोस्तों आपको Bakra Eid Kab Hai? ये तो अब आप जान गए होंगे, लेकिन उससे पहले आप 10 दिन के अंदर चाँद दिख जाएगा तो आप और भी अच्छी तरह जान जाएंगे, की बकरा ईद का त्योहार 16 जून ये 17 जून को मनाया जाएगा।

उम्मीद है, आपको बकरा ईद से संबंधित जानकारी समझ आ गया होगा, मैं अपनी कोशिश से इसकी पूरी जानकारी को आपको दिया हूँ, हमने बकरा ईद की दोनों तारीख को मुकम्मल तरीके से आपको बताया है।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छा लगा तो नीचे दिए कमेन्ट बॉक्स मैसेज जरूर करे, अन्यथा कोई डाउट दिखा तो आप फिर भी कमेन्ट करके हमसे पूछ सकते है।

इस पोस्ट को दोस्तों के साथ शेयर करे:
Shakil Ahmad

नमाज़क़ुरान.कॉम एक इस्लामिक वेबसाइट है जो शकील अहमद द्वारा 2021 में शुरू की गई है, ताकि दुनिया भर के लोगो तक ऑथेंटिक इस्लामिक दुआएं, नमाज़, कुरान और हदीस की रौशनी में जानकारी पहुंचाई जा सके।

Leave a Comment