BAZAR MEIN DAKHIL HONE KI DUA

Rate this post

हेल्लो मेरे प्यारे मुस्लिम भाई और बहन आज की इस पोस्ट Bazar Jate Wakt ki Dua सिखने वाले हो जिस को पढ़ कर बहुत सारे सवाब के हक़दार हो सकते है.

Bazar me Jane ki dua
Bazar Jate Waqt ki Dua

बाज़ार में दाखिल होते वक़्त ये दुआ पढ़ने से 10 लाख नेकियाँ मिलती हैं

उमर रदी अल्लाहू अन्हु से रिवायत किया की रसूल-अल्लाह सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम ने फरमाया जो शख्स किसी बाज़ार में दाखिल हो और ये कलीमात कहे तो उसके लिए 10 लाख नेकियाँ लिख दी जाती हैं और उसके 10 लाख गुनाह मिटा दिए जाते हैं

ला ईलाहा इल अल्लाह वाह्दहू ला शारिका लहू , लहु अल-मुल्क वा लहू अल-हम्द ,  वा हुवा अला कुल्ली शयईन क़दीर

अल्लाह के सिवा कोई माबूद नही, वो अकेला है उसका कोई शरीक नही , मुल्क उसी का है , और तमाम तारीफें उसी के लिए हैं ,  और वो हर चीज़ पर कादिर है

Leave a Comment