Tu Bada Garib Nawaz Hai Lyrics by Hafiz Tahir Qadri

Tu Bada Garib Nawaz Hai Lyrics Manqabat e Hazrat Khwaja Garib Nawaz By Hafiz Tahir Qadri Full Lyrics. Tu Bada Garib Nawaz Hai Manqabat Is Sung By Hafiz Tahir Qadri & Hafiz Ahsan Qadri in Their Beautiful & Soothing Voice.

Tu Bada Garib Nawaz Hai Manqabat is Written By Asim Ul Qadri Muradabadi. English, Urdu, Hindi All Three Languages Available (Scroll Down).

Manqabat TitleTu Bada Garib Nawaz Hai
ArtistHafiz Tahir Qadri & Hafiz Ahsan Qadri
WriterAsim UL Qadri Muradabadi

Tu Bada Garib Nawaz Hai Lyrics in English

Chiraage Chist Shahe Auliya Garib Nawaz
Mere Huzoor, Mere Peshwa Garib Nawaz

Teri Shaan Khwaja e Khwajaga
Tu Bada Garib Nawaz Hai
Tu Mueen e Ummate Mustafa
Tu Saboot e Rahmat e Mustafa
Tu Ata e Mir e Hizaj Hai
Tu Bada Garib Nawaz Hai (x2)

Hame Tune Apna Bana Liya
Hame Do Jahan Se Bacha Liya
Tujhe Gamzado Ka Khayal Hai
Tu Bada Garib Nawaz Hai
Jo Suni Gayi Sar e Karbala (x2)
Hai Teri Sada Bhi Wahi Sada
Wohi Nagma Hai, Wohi Saaz Hai
Tu Bada Garib Nawaz Hai (x2)

Tu Bada Garib Nawaz Hai (x3)

Na Gine Gaye Wo Shumaar Se (x2)
Jo Pale Hai Tere Dayaar Se (x2)
Tera Daste Jud Daraaj Hai
Tu Bada Garib Nawaz Hai

Ata e Mustafa Mere Khwaja
Ata e Mustafa Mere Khwaja Piya
Hasan-Hussain Se Hai Aapko Nisbat
Nabi Ki Aa’l Ho, Ali Ke Laal Ho
Bayan Ho Kis Zabaan Se Aapki Azmat

Mustafa Ne Tumhe Hind Bheja
Tum Muraade Nabi Ho
Hind Jisse Munawwar Huwa Hai
Aap Wo Roshni Ho
Riza e Mustafa, Habib e Kibriya (x2)
Zameen Kya Hai, Falak Par Aapki Shohrat

Garib Nawaz… Garib Nawaz (x2)

Nabi Ki Aa’l Ho, Ali Ke Laal Ho
Bayan Ho Kis Zabaan Se Aapki Azmat

Ek Muddat Se Dil Me Hai Armaan
Me Bhi Ajmer Jaun
Thaam Kar Tumre Roze Ki Jhaali
Haal Dil Ka Sunaun
Dil e Betaab Ki, Sada Sunlo Sakhi (x2)
Dikha Dijye Mujhe Bhi Wo Haseen Turbat

Ata e Mustafa Mere Khwaja Piya
Hasan-Hussain Se Hai Aapko Nisbat
Nabi Ki Aa’l Ho, Ali Ke Laal Ho
Bayan Ho Kis Zabaan Se Aapki Azmat

Khwaja e Mann, Qibla e Mann (x2)
Deen e Mann, Imaan e Mann
Man Ba-Qurbana Shaawa Main
Yusuf e Kin Aane Mann

Aye Shahenshahe Wilayat, Khwaja e Hindal Wali (x2)

Yak Nigaahe Gaahe Gaahe
Yak Nigaahe Gaahe Gaahe Gaahe
Yak Nigaahe Gaahe Gaahe
Az Tufele Panjatan

Ek Kaanse Me Dariya Duboya
Dubto Ko Tiraaya
Jogi Jaypaal Ko Tumne Khwaja
Hai Musalman Banaaya
Khuda Ki Shaan Ho, Nabi Ki Jaan Ho (x2)
Zamaana Jaanta Hai, Aapki Rif’At

Ya Garib Nawaz… Ya Garib Nawaz (x2)

Aapko Apna Sardar Maana
Hind Ke Auliya Ne
Mere Saabir Ne Waris Piya Ne
Aur Ahmed Raza Ne
Tumhi Hindal Wali, Na Tumsa Hai Koi (x2)
Lab e Sarkar Par Hai Aapki Mid’hat

Garib Nawaz… Garib Nawaz (x2)

Nabi Ki Aa’l Ho, Ali Ke Laal Ho
Bayan Ho Kis Zabaan Se Aapki Azmat

Tumne Taalim Tauhid Ki Di
Shirk Se Hai Bachaya
Boot-Parasti Me Jo Mubtala The
Unko Qalma Padhaya
Sada Islam Ki, Aye Asim Gunj Uthi (x2)
Huwi Kaafoor Qufro Shirk Ki Beed’At

Ata e Mustafa Mere Khwaja Piya
Hasan-Hussain Se Hai Aapko Nisbat
Nabi Ki Aa’l Ho, Ali Ke Laal Ho
Bayan Ho Kis Zabaan Se Aapki Azmat

Tu Bada Garib Nawaz Hai (x4)
Garib Nawaz… Garib Nawaz (x2)

Tu Bada Garib Nawaz Hai Lyrics In Hindi

चिरागे चिस्त शहे औलिया गरीब नवाज़
मेरे हुज़ूर, मेरे पेशवा गरीब नवाज़

तेरी शान ख्वाजा ए ख्वाजगा
तू बड़ा गरीब नवाज़ है
तू मुईन ए उम्मत मुस्तफा
तू सबूत ए रहमत ए मुस्तफा
तू अता ए मीर ए हिजाज़ है
तू बड़ा गरीब नवाज़ है (x2)

हमें तूने अपना बना लिया
हमें दो जहाँ से बचा लिया
तुझे गमज़दो का ख्याल है
तू बड़ा गरीब नवाज़ है
जो सुनी गयी सरे कर्बला (x2)
है तेरी सदा भी वही सदा
वही नगमा है, वही साज़ है
तू बड़ा गरीब नवाज़ है (x2)

तू बड़ा गरीब नवाज़ है (x3)

न गिने गये वो शुमार से (x2)
जो पले है तेरे दयार से (x2)
तेरा दस्ते जुद दराज है
तू बड़ा गरीब नवाज़ है

अता ए मुस्तफा मेरे ख्वाजा
अता ए मुस्तफा मेरे ख्वाजा पिया
हसन-हुसैन से है आपको निस्बत
नबी की आ’ल हो, अली के लाल हो
बयां हो किस ज़बां से आपकी अज़मत

मुस्तफा ने तुम्हे हिंद भेजा
तुम मुरादे नबी हो
हिन्द जिस्से मुनव्वर हुआ है
आप वो रोशनी हो
रिज़ा ए मुस्तफा, हबीबे किब्रिया (x2)
ज़मीं क्या है, फलक पर आपकी शोहरत

गरीब नवाज़… गरीब नवाज़ (x2)

नबी की आ’ल हो, अली के लाल हो
बयां हो किस ज़बां से आपकी अज़मत

एक मुद्दत से दिल में है अरमन
में भी अजमेर जाऊं
थाम कर तुमरे रोज़े की झाली
हाल दिल का सुनाऊं
दिले बेताब की, सदा सुनलो सखी (x2)
दिखा दिज्ये मुझे भी वो हसीं तुर्बत

अता ए मुस्तफा मेरे ख्वाजा पिया
हसन-हुसैन से है आपको निस्बत
नबी की आ’ल हो, अली के लाल हो
बयां हो किस ज़बां से आपकी अज़मत

ख्वाजा ए मन, क़िबला ए मन (x2)
दीन ए मन, ईमान ए मन
मन ब-कुर्बाना शावा मैं
यूसुफे किन आने मन

ऐ शहेनशाहे विलायत, ख्वाजा ए हिंदल वली (x2)

यक निगाहे गाहे गाहे
यक निगाहे गाहे गाहे गाहे
यक निगाहे गाहे गाहे
अज़ तुफेले पंजतन

एक कांसे में दरिया दुबोया
दुबतो को तिराया
जोगी जयपाल को तुमने ख्वाजा
है मुसलमां बनाया
खुदा की शान हो, नबी की जान हो (x2)
ज़माना जानता है, आपकी रिफ’अत

या गरीब नवाज़… या गरीब नवाज़ (x2)

आपको अपना सरदार माना
हिंद के औलिया ने
मेरे साबिर ने वारिस पिया ने
और अहमद रज़ा ने
तुम्ही हिंदल वली, न तुमसा है कोई (x2)
लबे सरकार पर है आपकी मिद’हत

गरीब नवाज़… गरीब नवाज़ (x2)

नबी की आ’ल हो, अली के लाल हो
बयां हो किस ज़बां से आपकी अज़मत

तुमने तालीम तौहीद की दी
शिर्क से है बचाया
बूट-परस्ती में जो मुबतला थे
उन्को कलमा पढ़ाया
सदा इस्लाम की, ऐय असीम गूंज उठी (x2)
हुवी काफूर कुफ्रो शिर्क की बीद’अत

अता ए मुस्तफा मेरे ख्वाजा पिया
हसन-हुसैन से है आपको निस्बत
नबी की आ’ल हो, अली के लाल हो
बयां हो किस ज़बां से आपकी अज़मत

तू बड़ा गरीब नवाज़ है (x4)
गरीब नवाज़… गरीब नवाज़ (x2)

Tu Bada Garib Nawaz Hai Lyrics Youtube Video

Tu Bada Garib Nawaz Hai Lyrics

Who wrote the Lyrics of “Tu Bada Garib Nawaz Hai” Manqabat?

Asim Ul Qadri Muradabadi has written the Lyrics of “Tu Bada Garib Nawaz Hai”.

Who is the singer of “Tu Bada Garib Nawaz Hai” Manqabat?

Hafiz Tahir Qadri & Hafiz Ahsan Qadri have sung the Manqabat “Tu Bada Garib Nawaz Hai”. Hafiz Tahir Qadri is known for singing songs like Chalo Namaz Parhen, Meri Baat Ban Gayi Hai, Sahara Chahiye Sarkar.

Related More Manqabat List:

We hope you understood the song Tu Bada Garib Nawaz Hai Lyrics Hindi & English both. If you have any issues regarding the lyrics of this song, please contact us. Thank You For Visiting my namazquran.com website, I hope you come! Again

Leave a Comment