Musafa Karne ki Dua | मुसाफा एक हाथ या दो हाथ से?

क्या आपको पता है Musafa Karne ki Dua क्या है और इस दुआ को हिंदी, इंग्लिश में कैसे याद करे. क्या सच में मुसाफा एक हाथ या दो हाथ से किया है.

अगर आपको भी जानना है मुसाफा क्या है और इसका मतलब है, या मुसाफा करने की सुन्नत तरीका क्या है तो आप इस पोस्ट को last तक पढ़े तो समझ आ जाएगा की मुसाफा एक हाथ या दो हाथ से और तरीका क्या है.

मुसाफा का मतलब (Meaning of Musafa)

जब दो मुस्लिम भाई आपस में मिलते है तो सबसे पहले salam करते है और फिर दोनों हाथ मिलाते है इसी हाथ मिलाने को मुसाफा कहते है।

Musafa Karne ki Dua

musafa karne ki dua in english
musafa ki dua

तर्जुमा: या’नी अल्लाह हमारी और तुम्हारी मरिफ़रत फ़रमाए

मुसाफा एक हाथ या दो हाथ से?

अब चलिए जानते है मुसाफा एक हाथ से करना चाहिए या दोनों हाथो से करना है तो सही हदीसों की रोशनी में दोनों तरीको से मुसाफा करना सही है। हमें दो तरीके से मुसाफा करने की दलील मिलती हैं। इमाम बुखारी का भी यही अकीदा था।

ज्यादा जानकारी के लिए ये विडियो को देखे.

musafa karne ka tarika

आप कमेंट में बताए की ये dua और इसकी जानकरी कैसी लगी.

इन्हें भी पढ़े

घर में दाखिल होने की दुआ

घर से बाहर निकलते वक़्त की दुआ

बैतूल खला जाने और निकलने की दुआ

5/5 - (3 votes)

Leave a Comment