Aye Saba Mustafa Se Keh Dena Lyrics by Ulhaz Umesh Qadri

Aye Saba Mustafa Se Keh Dena Lyrics is one of the best Naat by Ulhaz Umesh Qadri is the singer of this Beautiful Naatepaak and sang this Naat in his pleasant and melodious voice.

Naat-KhwaanUlhaz Umesh Qadri
Naat ComposerOwais Raza Qadri, Ulhaz Umesh Qadri
Naat LyricistUlhaz Umesh Qadri
Released OnJan 02, 2014

Aye Saba Mustafa Se Keh Dena Lyrics

Ae Saba Mustafa Sey Keh Dena
Gum ke mare salaam karte hain
Yaad karte he aap ko shaam or sahar
Besahaare salaam karte he

Allah Allah, Huzoor ki Baatein
Marhabaa rang or Noor ki Baatein
Chaand jinki balaaye letaa he
Or Sitaare salaam karte he

Zaaire Kaaba tu madine me
Mere Aaqa se itna kehdena
Pyaare Aaqa Rasool Sunlijiye
Gum ke maare salaam karte he

Zikr tha aakhri maheene ka
Tazkira chir gayaa Madine ka
Haajio Mustafa sey Kehdena
Gum ke maare salaam karte he

Aey payaami meri Qasam he tujhe
Arz karna Rasool-e Akram sey
Qalb-e Mutrib ki he Huzoor tarap
Or saare salaam karte he

Subz Gumbad ka aankh me manzar
Or tasawwur me Aap ka mimbar
Saamne jaaliya he Rauze ki
Aajzi sey salaam karte he

Allah Allah, Huzoor ke Gaisu
Bhini Bhini mehekthi wo khusbu
Jinse ma’mur fiza harsu
Wo nazaare salaam karte he

Aey Khuda ke Habib Pyaare Rasool
Ye hamaara salaam keejye Qabool
Aaj mehfil me jitney haazir he
Milke saarey salaam karte he

Aye Saba Mustafa Se Keh Dena Lyrics in Hindi

ऐ सबा मुस्तफ़ा से कह देना
ग़म के मारे सलाम कहते हैं

याद करते हैं तुम को शामों सहर
बे सहारे हमारे सलाम कहते हैं

अल्लाह अल्लाह हुज़ूर की बातें
मरह़बा रंगो नूर की बातें

चांद जिनकी बलाएं लेता है
और तारे सलाम कहते हैं

जब मुह़म्मद का नाम आता है
रह़मतों का पयाम आता है

लब हमारे दुरुद पढ़ते हैं
दिल हमारे सलाम कहते हैं

ज़ाइरे क़ाबा तू मदीने में
प्यारे आक़ा से इतना कह देना

प्यारे आक़ा रसूल सुन लीजे
ग़म के मारे सलाम कहते हैं

आपकी गर्दे राह को आक़ा
बे सहारे सलाम कहते हैं

ज़िक्र था आख़िरी महीने का
तज़्किरा छिड़ गया मदीने का

हाजियो मुस्त़फा से कह देना
ग़म के मारे सलाम कहते हैं

सब्ज़ ग़ुम्बद का आंख में मन्ज़र
और तसव्वुर में आपका मिम्बर

सामने जालियां हैं रौज़े की
आजिज़ी से सलाम कहते हैं

अल्लाह अल्लाह हुज़ूर के गेसू
भीनी भीनी महकती वोह ख़ुशबू

जिनसे मामूर है फिज़ा हर सू
वोह नज़ारे सलाम कहते हैं

ऐ ख़ुदा के ह़बीब प्यारे रसूल
ये हमारा सलाम कीजे क़ुबूल

आज मह़फिल में जितने हाज़िर हैं
मिल के सारे सलाम कहते हैं

ऐ सबा मुस्तफ़ा से कह देना
ग़म के मारे सलाम करते हैं

याद करते हैं तुम को शामों सहर
दिल हमारे सलाम करते हैं

Checkout the YouTube Video of Aye Saba Mustafa se Keh Dena Lyrics

aye saba mustafa se keh dena salam lyrics

Who wrote the Lyrics of “Aye Saba Mustafa Se Keh Dena” Naat Sharif?

Ulhaz Umesh Qadri has written the Lyrics of “Aye Saba Mustafa Se Keh Dena”.

Who is the singer of “Aye Saba Mustafa Se Keh Dena” Naat Sharif?

Ulhaz Umesh Qadri have sung the Naat Sharif “Aye Saba Mustafa Se Keh Dena”.

When “Aye Saba Mustafa Se Keh Dena” Naat Sharif Released?

“Aye Saba Mustafa Se Keh Dena” Naat Sharif was Released Date in 02 Jan, 2014.

Related More Naat Sharif Lyrics List:

Jazakallahu Khairan. hopefully, Aye Saba Mustafa Se Keh Dena Lyrics Hindi & English is helpful to you and please let me know if you have any corrections or additions in the Contact us section.

If you have any issues regarding the Lyrics of this Naat Sharif Lyrics, please contact us. Thank You For Visiting my namazquran.com website, I hope you come! Again

Leave a Comment