Namaz Quran Blog

safar ki dua

Safar ki Dua in Hindi, Urdu | सफर की दुआ

आज हम आप को Safar ki Dua बताएंगे जिसको पढ़ कर आपको अपना सफर शुरू करना चाहिए।

क्या आप जानते हैं इस्लाम में सफर करना भी एक इबादत है इस्लाम में जिंदगी के हर एक मसले में रहनुमाई की गई है, जिसमें सफर भी एक है।

साथ ही हम आपको सफर के दौरान और सफर की तैयारी के दौरान शरीयत के हिसाब से जो तरीका होना चाहिए उसके बारे में भी बताएंगे।

वैसे तो बहुत सारी दुआ है जिसको हम सफर करने के दौरान पढ़ सकते हैं लेकिन यहां हमने वह खास दुआ बताइ है जो हम खुद सफर के दौरान पढ़ते हैं।

इस दुआ को पढ़ने से पहले बिस्मिल्लाहहिर्रहरामनिर्रहीम और तीन-तीन बार दुरूद शरीफ पढ़ कर आसमान की तरफ अपना मुँह करके फूंक मार दे.इस दुआ का इतना असर हैं की, इस दुआ से सफर में आपकी हिफाजत होगी,आप पर रहमत होगी,आपकी सफर की मुराद पूरी होगी,आपको गैबी मदद भी हासिल होगी।

Safar ki Dua

safar ki dua
Image source: Pinterest.com

Dua in Hindi Meaning

वो पाक है जिसने इसको हमारे काबू में कर दिया और हम में ताकत न थी कि इसको काबू में कर लेते और हमको अपने रब की तरफ़ ही लौट कर जाना है.

Safar ki Dua in Urdu

سُبْحَانَ الَّذِي سَخَّرَ لَنَا هَـٰذَا وَمَا كُنَّا لَهُ مُقْرِنِينَ وَإِنَّا إِلَىٰ رَبِّنَا لَمُنقَلِبُونَ-

Safar ki Dua in English

Subhanallazi sakhkhara lana haaza wama kunna, lahoo muqrineen, wa inna ila Rabbina Lamunqalibun

safar ki dua in hindi

सुब्हानल्लज़ी सख्खर लना हाज़ा वमा कुन्ना लहू मुक़रिनीन, व इन्ना इला रब्बीना लमुनक़लिबुन.

सफर की दुआ पढ़ने के बाद तीन बार अल्हम्दु लिल्लाह और तीन बार अल्लाह हु अकबर कहें उसके बाद यह दुआ पढ़ें कैसा भी सफर हो चाहे आप बाइक बस रेल हवाई जहाज़ या पानी के जहाज़ में! हमेशा Safar ki dua पढ़कर ही सफर शुरू करना चाहिए !


इस्लाम जैसे खूबसूरत मज़हब में पैदा होना ! और हुजूर सल्ललाहो अलैहि व सल्लम की उम्मत में पैदा होना! हम सब के लिए फ़क़्र की बात है !हमारे प्यारे आका हुजूर सल्ललाहो अलैहि व सल्लम ने हमें ! हर छोटे बड़े काम को करने के लिए बेहतरीन तरीके बताये है!

हमें चाहिए ! की हम हुजूर सल्ललाहो अलैहि व सल्लम के बताये हुए ! रास्ते पर चलते हुए अपनी जिंदगी गुजारे !
लिहाज़ा आप जब भी घर से बाहर निकले तो घर से बाहर जाते वक़्त की दुआ पढ़कर निकला करे और जब भी कही बाहर का सफर करे तो Safar ki dua भी जरूर पढ़ लिया करे|


ऊपर हमने सफर की दुआ हिंदी में बताई है ! आप की सुविधा के हिसाब से हमने सफर की दुआ हिंदी में लिखकर एक इमेज बनाकर अपलोड की है ! जिसे आप आसानी से अपने मोबाइल वगैरह में डाउनलोड कर सकते है ! और याद कर सकते है इससे पुरे सफर में आपकी हिफाज़त रहती है|
और दौराने सफर में आने वाली परेशानी से भी इंसान बचा रहता है|

यह भी पढ़े: Wazu ki Dua

सफ़र का इरादा करे, तो यह दुआ पढ़ें

اللَّهُمَّ بَكَ أَصُولُ وَبِكَ أَجُولُ وَبِكَ أَسِيرُ

अल्लाहुम-म बि-क असूलु व बि-क अहूलु व बि-क असीरु०

तर्जुमा – अल्लाह मैं तेरी मदद से ही हमला करता हूं, तेरी ही मदद से उनको दूर करने की तद्-बीर करता हूं तथा तेरी ही मदद से चलता हूं।

इस्लाम में कितनी दुरी को सफर माना जाता है 

इस्लाम में किसे सफर माना जाए आज भी लोगों की अलग अलग राय है. बहुत से लोगों का यह कहना है कि, अगर मेरा सफर 90 किलोमीटर से ज्यादा हैं तो उसे सफर मान लिया जाए |

चाहे उस सफ़र को पूरा करने के लिए हवाई जहाज या ट्रेन या बस का प्रयोग किया हो कुछ लोगों का यह कहना है कि अगर सफर में 2 दिन का समय लगे तो उसे सफर माना जाएगा।

सफर को लेकर इस्लाम से जुड़े लोगों की अलग अलग राय है. अल्लाह तल्लाह आपकी नियत को देखता है आप safar ki dua पढ़ कर ही अपना सफर शुरू करे |

और कोशिश हो की घर से वुजू करके निकले वजू भी एक मुस्तकिल इबादत है, क्या पता दुनिया में किया कौन सा काम अल्लाह तल्लाह को पसंद आ जाये और हमारी बक्शीश का बाइस बन जाए। इस्लाम में अच्छी बाते फैलाना भी सदका- ए – जरिया है |

  • ट्रेन में चढ़ते समय सफर की दुआ पढ़कर अपनी सीट पर जाकर बैठ जाएं
  • हमेशा ट्रेन छूटने से 10 से 15 मिनट पहले स्टेशन पर आएं।
  • अपने ही साथ सफर कर रहे, और दूसरे छोटे और बूढ़े लोगों का ख्याल रखें

यह भी पढ़े: Dua e Masura

Safar ki Dua for Car

अगर आप कार (car) से सफर कर रहे है तो आप निचे दिए हुए safar ki dua को पढ़े

Subha Nal Lazi Sakhkharlana Haaza Wamaa Kunna Lahu Muqrineen Wa Inna Ilaa Rabbina Lamun Qaliboon

सुब्हानल्लज़ी सखरलना हाज़ा वमा कून्ना लहुल मुकरिनीन’ व इन्ना _ ईला रब्बेना मुनकलेबून

Safar Se Wapas Aane ki Dua

जब सफ़र से वापस आ गए अल्लाह ने आपकी हिफाज़त की तो अब आप पर ज़रूरी है कि उसकी हम्दो सना और तारीफ में ये चंद अलफ़ाज़ ज़रूर कहें जिसको नबी स.अ. सफ़र से वापसी पर पढ़ा करते थे


Safar se Wapsi ki Dua Hindi Translation : 

अल्लाह के अलावा कोई इबादत के लाइक नहीं वो अकेला है उसका कोई शरीक नहीं, उसी की बादशाहत है, और उसी की हम्द है, और वो हर चीज़ पर कादिर है, हम वापस लौटने वाले, तौबा करने वाले, इबादत करने वाले, सिर्फ़ अपने रब की हम्द करने वाले हैं, अल्लाह ने अपना वादा सच कर दिया और अपने बन्दे की मदद की और अकेले ही लश्करों को शिकस्त दी |

यह भी पढ़े: Namaz ke Baad ki Dua

Safar se Wapsi ki Chota (Short) Dua

اٰ ئِبُوْنَ تَآئِبُوْنَ عَابِدُوْنَ سَاجِدُوْنَ لِرَبِّنَاحَامِدُوْنَ ۔

English Meaning: We return, repent, worship and praise our Lord.

Hindi Translation: हम सफर से आने वाले है, तौबा करने वाले है, इबादत करने वाले है, सजदा करने वाले है और अपने खुदा की हम्द करने वाले है.

Safar ki Dua mp3 Download

अगर आप mp३ में डाउनलोड करना चाहते है या ऑनलाइन सुनना चाहते है तो निचे play या डाउनलोड कर सकते है.

Safar ki Dua Mp3

Safar ki Dua Video

Video Credit: Youtube.com

Safar ki Dua Related (FAQs)

सफ़र क्या है?

जब हम एक जगह से किसी दुसरे जगह किसी माध्यम से जाते है जैसे – गाड़ी, बस, ट्रेन, जहाज़,आदि तो उसे सफ़र कहते है या आप एक city से दुसरे city, एक शहर से दुसरे शहर जाते है तो उससे सफ़र कहते है।

इन्हें भी जानें:

Ghusl ki Dua

Istikhara ki Dua

Manzil ki Dua

Azan ki Dua

Related Posts

2 thoughts on “Safar ki Dua in Hindi, Urdu | सफर की दुआ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *